MP Board Class 7th Solution For Sahayak Vachan Chapter 9 : राष्ट्र प्रेम

Class 7th सहायक वाचन Solution

खण्ड 1 : नैतिक शिक्षा

पाठ 9 : राष्ट्र प्रेम

लघु उत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 1. राष्ट्र प्रेम का आशय बताइए।

उत्तर – राष्ट्र प्रेम–”अपने देश के प्रति अनुराग या उससे प्रेम करने की भावना ही राष्ट्र प्रेम कहलाती है। ” इसे हम देश प्रेम या देश भक्ति के नाम से भी पुकारते हैं।

प्रश्न 2. ठाकुरदास के बालक ने क्या बनने और करने की इच्छा व्यक्त की थी ?

उत्तर-ठाकुरदास के बालक ने खूब पढ़-लिखकर विद्वान बनने और माँ की सेवा करने की इच्छा व्यक्त की थी।

प्रश्न 3. बालक की माँ ने कौन से तीन गहने बालक से माँगे थे ?

उत्तर- बालक की माँ ने निम्नलिखित तीन गहने बालक से माँगे थे-

(1) गाँव में अच्छा स्कूल बनवाना।

(2) गाँव में एक दवाखाना खुलवाना।

(3) गाँव में गरीब एवं अनाथ बच्चों के लिए रहने-खाने तथा शिक्षा प्राप्त करने की व्यवस्था करना।

प्रश्न 4. बालक कौन था ? क्या उसने अपनी माँ की इच्छा की पूर्ति की ?

उत्तर—वह बालक पं. ईश्वरचन्द्र विद्यासागर थे। हाँ, उन्होंने अपनी माँ की इच्छा पूर्ति की और अपने वेतन की आय में से स्कूल, औषधालय तथा सहायता केन्द्र खोले तथा स्त्री-शिक्षा एवं विधवा- विवाह रूपी गहने भी अपनी माँ के चरणों में समर्पित किए।

प्रश्न 5. क्रान्तिकारी खुदीराम बोस को फाँसी की सजा किस अपराध में सुनाई गई ?

उत्तर – क्रान्तिकारी खुदीराम बोस को फाँसी की सजा पुलिस इन्सपैक्टर सैंडर्स पर बम फेंकने के अपराध में सुनाई गई थी।

प्रश्न 6. क्रान्तिकारी खुदीराम बोस ने न्यायाधीश से पाँच मिनट का समय क्यों माँगा ?

उत्तर – क्रान्तिकारी खुदीराम बोस ने न्यायाधीश से पाँच मिनट का समय न्यायालय में बैठे अपने साथियों को बम बनाने की विद्या सिखाने को माँगा था।

प्रश्न 7. स्वामी विवेकानन्द विदेश प्रवास के समय उस देश के बालक के किस व्यवहार पर चकित रह गए थे ?

उत्तर – विदेश प्रवास के दौरान स्वामी विवेकानन्द ने सेब खरीदे तो दुकानदार द्वारा खराब सेब देने पर उस देश के बालक ने स्वामीजी से वे खराब सेब माँग कर दूसरे सेब लेने की प्रार्थना की, क्योंकि उसे चिन्ता थी कि स्वामीजी अपने देश जाकर उसके देश की निन्दा करते। उस बालक की देशभक्ति से ओतप्रोत इस व्यवहार पर स्वामी विवेकानन्द आश्चर्यचकित होकर रह गए।

प्रश्न 8. दुद्धा अपनी माँ के सामने फूट-फूटकर क्यों रो पड़ा ?

उत्तर – दुद्धा को मालूम था कि उसके महाराणा के बच्चे सात दिन से भूखे हैं और उसकी माँ उसे खाने के लिए कह रही है। इसलिए दुद्धा अपनी माँ के सामने फूट-फूट कर रो पड़ा।

प्रश्न 9. दुद्धा ने अपनी माँ से क्या कहा ?

उत्तर–दुद्धा ने अपनी माँ से कहा, “महाराणा के बालक सात दिन से भूखे हैं। एक अन्न का दाना भी उनके मुँह में नहीं गया है, ऐसे में मैं कैसे भोजन कर सकता हूँ।”

प्रश्न 10. दुद्धा की माँ उसके किस गुण से प्रभावित हुई ?

उत्तर–दुद्धा की माँ उसके राष्ट्र प्रेम के गुण से प्रभावित हुई।