MP Board Class 6th Solution Sahayak Vachan Chapter 1 : योग-परिचय

Class 6th सहायक वाचन Solution

खण्ड 2 : योग-शिक्षा

पाठ 1 : योग-परिचय

सही विकल्प चुनिए

(1) किस कार्य से निवृत्त होकर योगाभ्यास करना चाहिए ?

(अ) शौच (ब) पढ़ाई (स) खेल (द) भोजन ।

(2) किसके पालन से मनुष्य की व्यक्तिगत स्तर के साथ-साथ सामाजिक स्तर पर भी शुद्धि होती है ?

(अ) यम (ब) नियम (स) ध्यान (द) समाधि।

उत्तर – (1) (अ) शौच, (2) (अ) यम।

लघु उत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 1. ‘योग’ शब्द की निष्पत्ति किस धातु से हुई है ? अर्थ सहित बताइए।

उत्तर –’योग’ शब्द की निष्पत्ति संस्कृत के युज धातु के घञ् प्रत्यय से हुई, जिसका अर्थ ‘जोड़ना’ है।

प्रश्न 2. ‘योगः कर्मसु कौशलम्’ का अर्थ समझाइए ।

उत्तर- कार्य को कुशलतापूर्वक करना ही योग है।

प्रश्न 3. योग अभ्यास से मिलने वाले किन्हीं दो लाभों का वर्णन कीजिए।

उत्तर – योगाभ्यास से शरीर के सभी तन्त्र और मस्तिष्क की कार्यक्षमता का विकास होकर शारीरिक एवं मानसिक ऊर्जा में बढ़ोत्तरी होती है।

प्रश्न 4. योग शिक्षा के कोई दो उद्देश्य लिखिए।

उत्तर – योग शिक्षा के निम्नांकित दो उद्देश्य हैं-

(1) रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास, तथा

(2) नैतिक गुण एवं चारित्रिक विकास ।

प्रश्न 5. ‘अष्टांग योग’ के अंगों के नाम लिखिए।

उत्तर – यम, नियम, आसन, प्राणायाम, प्रत्याहार, धारणा, ध्यान तथा समाधि, अष्टांग योग के अंग हैं।

प्रश्न 6. यम और नियम कितने हैं ? नाम लिखिए

उत्तर-यम पाँच हैं- अहिंसा, सत्य, अस्तेय, ब्रह्मचर्य और अपरिग्रह ।

नियम पाँच हैं – शौच, संतोष, तप, स्वाध्याय और ईश्वर प्राणिधान ।

प्रश्न 7. योगाभ्यास के दौरान रखी जाने वाली कोई पाँच सावधानियों का उल्लेख कीजिए।

उत्तर – योगाभ्यास के दौरान निम्नलिखित सावधानियाँ रखी जानी चाहिए-

(1) अपनी शारीरिक शक्ति के अनुसार ही योगाभ्यास करें।

(2) ज्वर (बुखार) की अवस्था में आसनों का अभ्यास न करें।

(3) स्नान करने के पश्चात् योगाभ्यास अधिक लाभप्रद होता है।

(4) आसनों का अभ्यास शौच निवृत होने के बाद ही करना चाहिए।

(5) योगाभ्यास पुस्तक पढ़कर अथवा टी.वी. देखकर न करके अनुभवी योग प्रशिक्षक के निर्देशन में ही करना चाहिए।