MP Board Class 6 Social Science Civics Solution Chapter 3 : सरकार क्या है

म.प्र. बोर्ड कक्षा  संपूर्ण हल- नागरिकशास्त्र – सामाजिक एवं राजनैतिक जीवन 1 (Civics: Social & Political Life – I )

इकाई 2 : सरकार

पाठ 3 : सरकार क्या है

प्रश्न – अभ्यास (पाठ्यपुस्तक से)

महत्वपूर्ण बिन्दु  :

  • प्रत्येक देश की एक सरकार होती है।
  • प्रत्येक सरकार अलग-अलग स्तरों पर काम करती है-स्थानीय स्तर पर, राज्य स्तर पर एवं राष्ट्रीय स्तर पर।
  • सरकार कानून बनाती है, कानून का पालन करने का आदेश देती है।  
  • भारत में लोकतान्त्रिक सरकार है। लोकतान्त्रिक सरकार को प्रतिनिधि सरकार भी कहते हैं।
  • देश के सभी वयस्क नागरिकों को वोट देने का अधिकार होता है।

महत्वपूर्ण शब्द

चुनाव – पद के लिए उम्मीदवारों में से बहुमत के आधार पर चुनना।

कानून – विभिन्न प्रकार के बने हुए समस्त विधानों का सामूहिक रूप

वयस्क मताधिकार – समस्त वयस्क नागरिकों को जाति, धर्म, सम्प्रदाय, वर्ग, वंश, शिक्षा, सम्पत्ति या लिंग आदि के भेदभाव के बिना मत देने का अधिकार।

पाठान्तर्गत प्रश्नोत्तर

पृष्ठ संख्या # 31

प्रश्न 1. ऊपर दी गयी अखबार की सुर्खियों को देखिए। इनमें सरकार के जिन कामों की बात की जा रही है, उनकी सूची बनाइए।

उत्तर – (1) सरकार से कामगारों के अधिकारों की रक्षा की माँग।

(2) बाढ़ पीड़ितों के लिए सरकार की ओर से राहत सामग्री।

(3) ब्याज की दर में उछाल : सरकार ने ब्याज के दाम तय किए।

(4) सर्वोच्च न्यायालय के लिए पाँच और न्यायाधीश सरकार।

(5) कोयला और बिजली विभागों के पुनर्गठन के पक्ष में है सरकार।

(6) सरकार ने 15,000 से अधिक गाँवों को सूखाग्रस्त घोषित किया।

प्रश्न 2. क्या सरकार का काम बहुत ही विस्तृत नहीं है? आपके अनुसार सरकार क्या है ? कक्षा में इस पर चर्चा कीजिए।

उत्तर – सरकार का काम बहुत की विस्तृत है, क्योंकि सरकार का काम देश की सीमाओं की सुरक्षा करना, दूसरे देशों से शान्तिपूर्ण सम्बन्ध बनाए रखना, देश के सभी नागरिकों को पर्याप्त भोजन, स्वास्थ्य सुविधाएँ, प्राकृतिक विपदाओं में पीड़ितों की सहायता इत्यादि है। जिसे सरकार कुछ निश्चित व्यक्तियों के माध्यम से करती है। सरकार के तीन अंग होते हैं – व्यवस्थापिका, कार्यपालिका और न्यायपालिका।

पृष्ठ संख्या # 32

प्रश्न 3. क्या आप सरकार के ऐसे कुछ और कामों के उदाहरण दे सकती हैं, जिनकी चर्चा ऊपर नहीं की गयी है ?

उत्तर – सरकार के कार्य

(1) सरकार द्वारा राज्य सरकारों की सहायता से शिक्षा की व्यवस्था करना।

(2) विदेशी पूँजी को देश में आकर्षित करना।

(3) नये – नये उद्योगों एवं तकनीकी का विकास करना।

पृष्ठ संख्या # 35

प्रश्न 4. किसी दूसरे कानून को लेकर यह विचार कीजिए कि लोगों के लिए उसे मानना क्यों जरूरी है ?

उत्तर – सरकार कानून बनाती है और देश में रहने वाले सभी लोगों को वे कानून मानने होते हैं। देश को सुचारू रूप से चलाने के लिए कानून बनाये जाते हैं, इसलिए यह जरूरी है कि लोग इनका आवश्यक रूप से पालन करें।

पृष्ठ संख्या # 36

प्रश्न 5. लोकतन्त्र में लोगों की भागीदारी उन निर्णयों को लेने में महत्वपूर्ण है जो उनको प्रभावित करते हैं। क्या आप इससे सहमत हैं ? अपने जबाव के दो कारण लिखिए।

उत्तर – लोकतन्त्र में लोगों की भागीदारी उन निर्णयों को लेने में महत्वपूर्ण है जो उनको प्रभावित करते हैं। इस कथन से पूर्णतया सहमत हैं इसके प्रमुख दो कारण निम्नवत् हैं

(1) लोग अपनी आवश्यकताओं और समस्याओं को अच्छी तरह से जानते हैं।

(2) लोग अपनी आवश्यकताओं के अनुसार ही निर्णय लेते हैं।

प्रश्न 6. आपके यहाँ जिस प्रकार की शासन व्यवस्था है, उसके स्थान पर आप कैसी शासन व्यवस्था चाहेंगी? और क्यों ?

उत्तर – हमारे यहाँ लोकतान्त्रिक शासन व्यवस्था है। लोकतन्त्र के स्थान पर हम कोई और शासन व्यवस्था नहीं चाहेंगे, क्योंकि लोकतान्त्रिक शासन व्यवस्था में लोगों के पास अपने नेता को चुनने की शक्ति होती है, लोग नियमों को बनाने में भागीदार बन सकते हैं। सबको समान अधिकार होता है। लोगों के साथ लिंग, जाति, धर्म, सम्प्रदाय, वर्ग, वंश, शिक्षा, सम्पत्ति इत्यादि के आधार पर कोई भेदभाव नहीं होता है इसलिए हम लोकतान्त्रिक शासन व्यवस्था चाहेंगे।

प्रश्न 7. नीचे दिए गए कथनों में जो गलतियाँ हैं, उन्हें सुधार कर लिखिए

(क) राजतन्त्र में देश के नागरिकों को अपनी पसन्द का नेता चुनने की छूट होती है।

(ख) लोकतन्त्र में एक राजा के पास देश पर शासन करने की सम्पूर्ण ताकत होती है।

(ग) राजतन्त्र में राजा या रानी द्वारा लिए गए निर्णयों पर लोग प्रश्न उठा सकते हैं।

उत्तर – (क) राजतन्त्र में देश के नागरिकों को अपनी पसन्द का नेता चुनने की छूट नहीं होती है। राजतन्त्र में राजा वंशगत होता है या किसी दूसरे राजा को युद्ध में पराजित करके राजा बनता है।

(ख) लोकतन्त्र में राजा जैसा कोई पद नहीं होता है। जनता अपना प्रतिनिधि स्वयं चुनती है और चुना हुआ प्रतिनिधि जनता का प्रतिनिधित्व करता है। किसी संविधान के तहत् विधि के नियम के अनुसार शासन की शक्ति का प्रयोग करता है।

(ग) राजतन्त्र में राजा या रानी के पास निर्णय लेने की सम्पूर्ण शक्ति होती है। राजा या रानी द्वारा लिए गए निर्णयों पर लोग किसी भी प्रकार के प्रश्न नहीं उठा सकते हैं।

प्रश्न 8. पाठ्य-पुस्तक में पृष्ठ 33 और 34 पर मानचित्रों को देखिए। वे भारत के राज्यों, केन्द्रशासित प्रदेशों और जिलों को दर्शाते हैं, इन मानचित्रों और विभिन्न अन्य संसाधनों से निम्न जानकारी का पता लगाए

(क) भारत के पड़ोसी देशों के नाम,

(ख) अपने राज्य या केन्द्रशासित प्रदेश और उसके पड़ोसियों के नाम,

(ग) अपने जिले और पड़ोसी जिलों के नाम,

(घ) अपने जिले से राष्ट्रीय राजधानी के लिए जाने वाले मार्ग।

उत्तर (क) भारत के पड़ोसी देशों के नाम निम्नवत् हैं

(1) पाकिस्तान, (2) नेपाल, (3) भूटान, (4) चीन, (5) बांग्लादेश, (6) अफगानिस्तान, (7) श्रीलंका, (8) म्यांमार, (9) इण्डोनेशिया, (10) मालदीव।

(ख) हमारा राज्य मध्य प्रदेश है। इसके पड़ोसी राज्य हैं-राजस्थान, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र एवं गुजरात।

(ग) ग्वालियर जिला एवं उसके पड़ोसी जिलों के नाम मुरैना, भिण्ड, दतिया, शिवपुरी, श्योपुर।।

(घ) ग्वालियर जिले से राष्ट्रीय राजधानी के लिए जाने वाले मार्ग आगरा मुम्बई NH 3 है।

प्रश्न 9. नीचे की तालिका में दिए गए कथनों पर नजर दौड़ाइए। क्या आप पहचान सकती हैं कि वे सरकार के किस स्तर से सम्बन्धित हैं ? उनके आगे निशान लगाइए।

उत्तर – (1) राष्ट्रीय, (2) राज्य, (3) राष्ट्रीय, (4) स्थानीय, (5) स्थानीय, (6) राज्य, (7) राष्ट्रीय।

पाठान्त प्रश्नोत्तर

प्रश्न 1. आप ‘सरकार’ शब्द से क्या समझती हैं ? एक सूची बनाइए कि किस तरह से सरकार आपके जीवन को प्रभावित करती है ?

उत्तर – सरकार शब्द से तात्पर्य एक व्यवस्था से है कि जिसके अन्तर्गत एक राज्य या समुदाय को नियन्त्रित किया जाता है और सभी व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाया जाता है। सरकार के निम्नलिखित कार्य हमारे जीवन को प्रभावित करते हैं

(1) सरकार रेल और डाक सेवाओं के संचालन का काम करती है। जा

(2) सरकार गरीबों की मदद करने के लिए कई कार्यक्रम चलाती है।

(3) सरकार शिक्षा की व्यवस्था करती है ताकि सभी शिक्षा ग्रहण कर सके।

(4) सरकार सभी को उचित स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए अस्पताल का निर्माण और उसकी देखभाल का कार्य करती हैं।

(5) सरकार प्राकृतिक आपदाओं में पीड़ितों की सहायता करती हैं।

प्रश्न 2. सरकार को कानून के रूप में सबके लिए नियम बनाने की क्या जरूरत है ?

उत्तरसभी प्रशासनिक कामों को सुचारू रूप से चलाने के लिए सरकार को कानून बनाने की आवश्यकता होती है। सभी नागरिक बिना किसी रुकावट के जीवन व्यतीत कर सके इसके लिए कानून की आवश्यकता होती है। कोई नागरिक किसी

अन्य नागरिक को परेशान न कर सके। सरकार संसाधनों पर भी नियन्त्रण स्थापित करती है जिससे सभी उन संसाधनों का प्रयोग कर सके। इस तरह सरकार को सबके लिए कानून बनाने की आवश्यकता होती है। ..

प्रश्न 3. लोकतान्त्रिक सरकार के आवश्यक लक्षण क्या हैं ?

उत्तर-लोकतान्त्रिक सरकार के आवश्यक लक्षण हैं

(1) लोकतन्त्र में लोग अपने मताधिकार के द्वारा अपने प्रतिनिधि का चुनाव करते हैं।

(2) लोकतन्त्र में सरकार को अपने निर्णयों और उठाए गए कदमों का आधार बताना होता है। साथ ही जनता को सफाई भी

देनी होती है।

प्रश्न 4. महिला मताधिकार आन्दोलन क्या है ? उसकी उपलब्धि क्या थी?

उत्तर-पहले महिलाओं को मत देने का अधिकार नहीं था। पूरे यूरोप और अमरीका में महिलाओं को सरकार के कार्यों में भागीदारी के लिए संघर्ष करना पड़ा। इसी संघर्ष को महिला मताधिकार आन्दोलन कहते हैं। प्रथम विश्व युद्ध के दौरान बहुत से पुरुष लड़ाई में थे तब महिलाओं को उनके सभी काम करने की जिम्मेदारी दी गयी जिसे महिलाओं ने बहुत अच्छी तरह से निभाया। तब लोगों को यह एहसास हुआ कि जब महिलाएँ पुरुषों की जिम्मेदारी को संभाल सकती हैं तो उन्हें मतदान का भी अधिकार मिलना चाहिए। तभी महिला मताधिकार आन्दोलन की साथियों ने सभी महिलाओं के लिए वोट देने की अधिकार की माँग की। इसके लिए उन्होंने जगह-जगह पर अपने आपको लोहे की जंजीरों से बाँधकर प्रदर्शन किया। भूख हड़ताल पर बैठी एवं लगातार संघर्ष के बाद उन्हें पुरुषों के समान मतदान का अधिकार मिला। इस आन्दोलन के सफल होने के बाद अमेरिका में 1920 में और इंग्लैण्ड में 1928 में महिलाओं को मतदान का अधिकार मिला।

प्रश्न 5. गाँधीजी का दृढ़ विश्वास था कि भारत में हर एक वयस्क को वोट देने का अधिकार मिलना चाहिए, लेकिन बहुत सारे लोग उनके विचारों से सहमत नहीं है। बहुत लोगों को लगता है कि अशिक्षित लोगों को, जो ज्यादातर गरीब हैं, वोट देने का अधिकार नहीं मिलना चाहिए। आपका क्या विचार है ? क्या आपको लगता है कि यह भेदभाव का एक रूप होगा?

उत्तर – गाँधीजी का यह विश्वास था कि भारत में हर एक वयस्क को वोट देने का अधिकार मिलना चाहिए। यह बिल्कुल सही लगता है। उनका मानना था कि जो व्यक्ति गरीब और अशिक्षित होते हैं, वे भी बुद्धिमान होते हैं। उनमें भी सरकार चुनने की योग्यता होती है। उनके विचार से जो व्यक्ति अपने परिवार की जिम्मेदारी को ठीक से संभाल सकता है। वह अपनी इच्छा से सरकार चुनने के लिए भी योग्य होता है। बहुत से लोगों को यह मानना कि अशिक्षित लोगों को जो ज्यादातर गरीब हैं, उनको वोट देने का अधिकार नहीं मिलना चाहिए। यह उनके भेदभाव की भावना को दर्शाता है, जो बहुत ही गलत है।

NCERT Solution Class 6 social science civics chapter 3 : सरकार क्या है