पाठ 7 प्रदेश के प्रभावशाली क्षेत्र एवं राजवंश

MP Board Class 8th Solution For Hindi Medium Sahayak Vachan म.प्र. बोर्ड कक्षा 8th का संपूर्ण हल सहायक वाचन

खण्ड 1 हमारा मध्यप्रदेश

पाठ 7 प्रदेश के प्रभावशाली क्षेत्र एवं राजवंश

रिक्त स्थानों की पूर्ति

(1) कच्छपघात राजवंश का प्रथम राजकुमार ————– था।

(2) राजा मानसिंह द्वारा निर्मित मान मन्दिर तथा ——— आज भी पर्यटकों के आकर्षण के केन्द्र हैं।

(3) तोमर वंश का अन्तिम राजा————— था।

(4) महादजी सिंधिया ने ————– प्रभुत्व की पुनः स्थापना की।

उत्तर-(1) लक्ष्मण, (2) गूजरी महल, (3) रामशाह, (4) मराठा।

लघु उत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 1. ग्वालियर क्षेत्र के प्रमुख राजवंश कौन-कौन से रहे?

उत्तर-ग्वालियर क्षेत्र के प्रमुख राजवंश प्रतिहार, कच्छपघात, तोमर, मुगल और सिंधिया राजवंश रहे हैं।

प्रश्न 2. राजा मानसिंह का ग्वालियर क्षेत्र में क्या-क्या

योगदान रहा?

उत्तर – राजा मानसिंह का ग्वालियर क्षेत्र में निम्नलिखित योगदान रहा है-

(i) राजा मानसिंह ने मान मन्दिर और गूजरी महल का निर्माण कराया जो आज भी पर्यटकों के आकर्षण के केन्द्र हैं।

(ii) वह संगीत का महान पारखी था। उसकी संगीत रचनाएँ आज भी प्रचलित हैं।

(iii) मानसिंह के शासन में संगीत की ग्वालियर शैली का जन्म हुआ।

(iv) राजा मानसिंह के शासनकाल में लोदियों और तोमरों में भयानक युद्ध हुए। परन्तु राजा मानसिंह ने अपने जीवित रहते हुए ग्वालियर की स्वतन्त्रता को आँच नहीं आने दी।

प्रश्न 3. होल्कर राजवंश में मध्य प्रदेश का कौन-सा क्षेत्र था?

उत्तर-होल्कर राजवंश में मध्य प्रदेश के मालवा क्षेत्र की इन्दौर रियासत थी।

प्रश्न 4. महाराजा छत्रसाल मध्य प्रदेश के किस क्षेत्र से सम्बन्धित हैं?

उत्तर-महाराजा छत्रसाल मध्य प्रदेश के बुन्देलखण्ड क्षेत्र से सम्बन्धित हैं।

प्रश्न 5. विंध्य प्रदेश में कौन-से क्षेत्र शामिल हैं?

उत्तरविंध्य प्रदेश में रीवा राज्य तथा बघेलखण्ड व बुन्देलखण्ड क्षेत्र शामिल हैं।

प्रश्न 6. मध्य प्रदेश के किस क्षेत्र में चार पीढ़ियों तक बेगमों का शासन रहा?

उत्तर- मध्य प्रदेश के भोपाल क्षेत्र में चार पीढ़ियों तक बेगमों का शासन रहा। उनके नाम हैं-कुदसिया बेगम, सिकन्दर बेगम, शाहजहाँ बेगम तथा सुल्तान जहाँ बेगम ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.